मोबाइल चलाने के नुकसान क्या होगा अगर ज्यादा मोबाइल चलाएंगे तो

मोबाइल चलाने के नुकसान

क्या होगा अगर ज्यादा मोबाइल चलाएंगे तो 

मोबाइल चलाने के नुकसान
मोबाइल चलाने के नुकसान

स्मार्टफोन का इस्तेमाल आजकल सभी लोग करते हैं लेकिन यह हमारे लिए कितना खतरनाक हो सकता है इससे अभी भी बहुत सारे लोग अनजान है

क्या आप भी रात में अंधेरे में अपने स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते है मूवी देखते है स्मार्टफ़ोन मे , चैटिंग करते हैं बोहोत ज्यादा गेमस खेलते है.

मैं आज आपको जो बताने वाला हू शायद आपको जानकर हैरानी होगी कि इससे आपको कितना बड़ा नुकसान झेलना पड़ सकता है आप जानना चाहते हो कि रात को अंधेरे में स्मार्टफोन मोबाइल इससे कैसे बचा जाए यह जाने के लिए आपको इस पोस्ट को लास्ट तक पड़ते रहना होगा.

Smartphone के साइड इफेक्ट्स..?

  • देर रात तक इंटरनेट की वजह से इसमें ज्यादातर आते हैं स्कूल के स्टूडेंट कॉलेज के स्टूडेंट्स यहां तक कि कई सारे छोटे बच्चे ये सब होते हैं
  • जो देर रात तक स्मार्टफ़ोन में गेम खेलते रहते हैं लेकिन उनकी आंखों पर हेल्थ पर कितना बड़ा असर पड़ सकता है शायद यह जानने के बाद आप यह सब करना थोड़ा सा काम कर दोगे.
  • जब आप रात को लाइट्स ऑफ कर के स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हो देर रात तक तो ऐसे में आपके आंखों में स्ट्रेन आता है आंखों पर तनाव पड़ता है जिससे आपके आंखों के नीचे हल्का सा डार्क सर्कल शुरू हो जाता है
  • आपकी आंखों में दर्द होना शुरू हो जाता है आपका तो दिमाग है वह थोड़ा सा भारी भारी लगता है ऐसा आपको लगता है कि आपके पास कुछ भी एनर्जी नहीं इतना तो आप के सर में दर्द होता है
  • यही नहीं आपको स्ट्रेश भी फील होता है ध्यान रहे स्मार्टफोन कितना ही स्मार्ट चुका है उसका जो डिस्प्ले है वह किसी भी मैटेरियल से बना हो किसी भी बड़ी से बड़ी कंपनियों ने बनाया हो स्मार्टफ़ोन की डिस्प्ले से निकलने वाली जो भी रोशनी है वह हमारी आंखों को नुकसान पहुंचाती है

    मोबाइल चलाने के नुकसान
    मोबाइल चलाने के नुकसान
  • तब जब आप अपने आंखों के कुछ ज्यादा ही पास रखो स्मार्टफोन इस्तेमाल करने के कई सारे नुकसान हो सकते हैं जिसमें सबसे पहला और सबसे बड़ा नुकसान वह यह है कि आपकी आंखों का जो भी मेट मेलाटोनिन हार्मोन धीरे धीरे कम हो जाता है

Read – स्मार्ट फोन हीटिंग प्रॉब्लम मोबाइल गरम क्यों होता है केसे सही करे ये प्रॉब्लम

  • और आपको नींद ना आने की समस्या लग जाती है आपको आदत लग जाती है आपका हैबिट बन जाता है कि आप जल्दी से सोने की कोशिश भी करता है लेकिन फिर भी आपको नींद नहीं आती इससे क्या होता है कि आप लेट सोते हो और सुबह जल्दी उठते हो आप के सर में दर्द होता आपको पूरा दिन थकान महसूस होती है
  • आपको स्ट्रेश फील होता है इस अलावा देर रात तक स्मार्टफोन इस्तेमाल करने से आपके आंखों में Redness की  समस्या आ जाती हैं
  • मतलब आपकी आंखों में हल्के हल्के लाल तरहा के धब्बे आना शुरू हो जाता है इससे आपके आंखों में जलन मचने चालू हो जाती है
  • आप की आंखों में स्मार्टफोन को एक दम पास  करते हो देर रात तक तो आपके आंखों पर प्रेशर रहे दबाव पड़ता है इससे आपके आंखों के जस्ट नीचे के डार्क सर्कल शुरू हो जाता है
  • ज्यादा देर तक अगर आप स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हो देर रात तक घंटों तक इससे आपके दिमाग पर असर पड़ता है आपको स्ट्रेश पड़ता है
  • इससे आपकी Dmk की मेमोरी है याद करने की क्षमता है वह थोड़ी कम हो जाते हैं धीरे-धीरे आपके आंखों का आयोजन भी धीरे-धीरे खराब होने लगता है तो यही नहीं इसके अलावा कई सारे और भी नुकसान है
  • अगर आप स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं देर रात तक लाइट को ऑफ कर के अगर स्मार्टफ़ोन का Use करते है तो इससे  बचें

मोबाइल के साइड इफेक्ट्स से बचे :-

  • मोबाइल के साइड इफेक्ट्स यानी कि मोबाइल के नुकसान से आप बच सकते है थोड़ा बोहोत आप बच सकते है
  • आपको मोबाइल मे बोहोत सारे एप्लीकेशन मिल जाएंगे प्ले स्टोर पर जिनका use करके आप मोबाइल से होने वाले नुकसान से बच सकते है
  • उन एप्लीकेशन को डाउनलोड करके आप अपने मोबाइल की डिस्प्ले की ब्राइनेस को चेंज कर सकते हैं उनके कलर को अपने हिसाब से कर सकते है
  • ओर रात मे जहा तक हो मोबाइल की रोशनी कम करे ओर डार्क कलर मे मोबाइल करके रखे
  • बस यही तरीके है जिससे आप अपने मोबाइल के होने वाले नुकसान से बच सकते है ओर कोई तरीका नहीं है

तो दोस्तो उम्मीद है कि आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी होगी हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी आज की पोस्ट मे इतना ही अगर आपका कोई सवाल जवाब है तो नीचे कमेंट कर देना मे सभी के रीप्ले कर दूँगा

Jai hind jai Bharat…  🙏

Summary
मोबाइल चलाने के नुकसान
Article Name
मोबाइल चलाने के नुकसान
Description
मोबाइल चलाने के नुकसान
Author
Publisher Name
Govind Meena

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *