प्राथमिक सेल क्या है – और क्या काम आता है जाने हिंदी में

प्राथमिक सेल

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हमने आपको सभी सेलो की पूरी जानकारी दे दी है उम्मीद है की आपको ये पोस्ट पसंद आयेगी फिर भी कोई सवाल रहे मन में तो कमेंट में बता देना

प्राथमिक सेल
प्राथमिक सेल

1.वोल्टिक सेल-

इस सेल की खोज वोल्टा नामक वैगयानिक ने की हे

• एनोड= तांबे का

• कैथोड= जिंक का

• इलेक्ट्रोलाइट=h2so4

• Emf= 1.08 volt

• दोष = दो प्रकार के होते हे

1 स्थानीय क्रिया दोष 2 धुवाच्छादन दोष

१ स्थानीय क्रिया दोष = इस दोष को दूर करने के लिये जिंक के उपर पारे की परत चढाई जाती हे जिसे अम्लगमनेशन कहते हे

२ धुवाच्छादन दोष= इस दोष को दूर करने के लिए MnO2 का प्रयोग किया जाता हे

प्राथमिक सेल
प्राथमिक सेल

2. डेनियल सेल

• एनोड= तांबे का

• कैथोड= जिंक का

• इलेक्ट्रोलाइट=H2SO4, CuSO4

Read – मोबाइल चलाने के नुकसान क्या होगा अगर ज्यादा मोबाइल चलाएंगे तो

• Emf= 1.1 volt

• आंतरिक प्रतिरोध =2 ओम से 6 ओम तक

• दोष = इस सेल में कोई दोष नही होता

• उपयोग= इस का उपयोग प्रयोगशाला स्थिर वोल्टेज प्रदान करने में किया जाता हे

3.लेक्लांची सेल

• एनोड= कार्बन का

• कैथोड= जिंक का

• इलेक्ट्रोलाइट=NH4Cl

• Emf= 1.46 volt

• आंतरिक प्रतिरोध =1 ओम से 5 ओम तक

• विधुवक= MnO2

• दोष = दो प्रकार के होते हे

1 स्थानीय क्रिया दोष 2 धुवाच्छादन दोष

1 स्थानीय क्रिया दोष = इस दोष को दूर करने के लिये जिंक के उपर पारे की परत चढाई जाती हे जिसे अम्लगमनेशन कहते हे

2 धुवाच्छादन दोष= इस दोष को दूर करने के लिए MnO2 का प्रयोग किया जाता हे

उपयोग= इस का उपयोग टेलीफोन,वेधुत घंटी आदि में किया जाता हे

4.शुष्क सेल

• एनोड= कार्बन का

• कैथोड= जिंक का

• इलेक्ट्रोलाइट=NH4Cl, ZnCl2,प्लास्टर ऑफ़ पेरिस की लुगदी

• विधुवक= MnO2, कार्बन , NH4Cl, ZnCl2 का चूर्ण का अनुपात 10:10:2:1

Read – ITI – 1st SEMESTER Electrician trade Chapter – 1

• Emf= 1.4 से 1.5 volt

• दोषः इस में कोई दोष नही होता हे

• उपयोग =टॉर्च, टेलीफोन,वेधुत घंटी ,केमरा,टेपरिकोडर आदि में

5. मरकरी सेल

इस सेल को बटन सेल भी कहते हे

• एनोड= निकल आलेपितस्टील या स्टेनलेस स्टील ,HgO का

• कैथोड= जिंक का

• इलेक्ट्रोलाइट=KOH का

• विधुवक= HgO का

• Emf= 1.35 से 1.4 volt

• दोषः इस में कोई दोष नही होता हे

उपयोग =कलाई घड़ी , पॉकेट कैलकुलेटर में किया जाता हे

6.सिल्वर ऑक्साइड सेल

• एनोड= Ag2O का

• कैथोड= जिंक का

• इलेक्ट्रोलाइट=KOH का

• विधुवक= Ag2O का

• Emf= 1.5volt

• दोषः इस में कोई दोष नही होता हे

उपयोग =अत्यंत लघु आकार के डिजिटल उपकरणों में

तो दोस्तों आपको हमारी ये पोस्ट केसी लगी आप कमेंट में जरुर बताये और अपने दोस्तों के साथ भी इसे शेयर करे ताकि उनकी भी कुछ हेल्प हो सके

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *